Samrat prithviraj Trailer review in Hindi 2022

  Samrat prithviraj Trailer review in Hindi 2022


अगर यदि इतिहास में पड़ी किताबों कहानियां असल जिंदगी मैं देखने को मिले तो उसके बारे में जानना और समझना और भी आसान हो जाता है

ऐसी ही एक इतिहासिक कहानी 3 जून 2022 को सिनेमाघरों मैं देखने को मिलने वाली है जिसका नाम सम्राट पृथ्वीराज है

इस फिल्म में अभिनेत्र अक्षय कुमार ने किया है जो अपनी कलाकारी और अदाकारी के लिए जाने जाते हैं अक्षय कुमार बारे में जितना लिखा जाए उतना कम है क्योंकि वह अपनी कला से अपने प्रशंसकों का दिल जीत लेते हैं तभी कहलाते  है तभी तो वह खिलाड़ी नंबर वन है

Samrat prithviraj Movie Cast


जैसा कि दोस्तों आप सबको पता है चल ही गया होगा की इस फिल्म सम्राट पृथ्वीराज का किरदार अक्षय कुमार करते हुए नजर आएंगे

अक्षय कुमार के साथ मुंशी चिल्लर संजय दत्त सोनू सूद और मानव वीज भी अपने अपने मुख्य किरदारों मैं नजर आएंगे

फिल्म में डायलॉग भी भर भर के डाले गए हैं जिससे फिल्म देखते समय लोगों के मन में उत्साह की कोई कमी ना रहे 

     अपनी जिंदगी के बदले सुल्तान 
को मैं मुट्ठी मिट्टी भी ना दूं

ऐसे कई डायलॉग आपको इस फिल्म मैं सुनने को मिलेंगे यह फिल्म हमारे अंतिम हिंदू सम्राट पृथ्वीराज के बारे मैं है इस फिल्म को हमें सिनेमाघरों मैं जरूर देखना चाहिए ताकि हमें अपनी इतिहास के संपूर्ण पन्नू के बारे मैं जानकारी मिल सके ।

Star Cast Character Name


Akshay Kumar :- Prithviraj Chauhan

Manushi Chhillar :- Sanyogita

Sanjay Dutt :- Kaka Kanha

Sonu Sood :- Chand Vardai

Manav Vij :- Mohammed Ghori

Ashutosh Rana :- Jayachandra


अक्षय कुमार ने फिल्म मैं अपने किरदार को निभाने मैं कोई कसर नहीं छोड़ी है उन्होंने फिल्म अपनी तरफ पूरा बेस्ट करके दिखाया है । 

यशराज फिल्म द्वारा फिल्म में VFX में  बहुत सा पैसा खर्च किया गया है ताकि फिल्म अच्छे से अच्छा दिखा सके 

लेकिन लोगों द्वारा टेलर को देखने के बाद सम्राट पृथ्वीराज के किरदार मैं अक्षय कुमार कुछ फीट नहीं बैठ रहे हैं फिल्म प्रशंसकों का मानना है कि अक्षय कुमार की जगह यह किरदार किसी और को दीया जाना चाहिए था

जैसे की मेरा मानना है कि यह किरदार रणवीर सिंह या फिर किसी और से करवाया जाना चाहिए था बाकी आप सब को क्या लगता है अक्षय कुमार अपने इस किरदार में सही लग रहे है या फिर किसी और को यह मौका मिलना चाहिए था आप अपना विचार हमें कॉमेंट के जरिए भी बता सकते हैं 

Aakhri Hindu Samrat Prithviraj Full Movie Download 480p 720p 


दोस्तों इंटरनेट से फिल्म या वेब सीरीज को डाउनलोड करना भारत में कानूनी अपराध है क्योंकि इस तरह से फिल्म इंडस्ट्री को करोड़ों रुपए का नुकसान उठाना पड़ता है पर ये इल्लीगल काम धड़ल्ले से आज भी इंटरनेट पर चल रहा है जिसे सरकार को रोकने के लिए सख्त कदम उठाने चाहिए लोग Prithviraj Full Movie Download करने की कोशिश जरूर करेंगे लेकिन यह गलत बात है आपको इस फिल्म के अच्छे एक्सपीरियंस के लिए इसे सिनेमाघरों में जाकर देखना चाहिए

Samrat prithviraj life story lines


इस कहानी में पृथ्वीराज और जयचंद एक अच्छे मित्र हुआ करते हैं इन दोनों ने 1191 के प्रथम तराइन युद्ध में मोहम्मद गोरी को बहुत बुरी तरह से हराया था

जोकि अफगान का रहने वाला था जयचंद की एक सुपुत्री भी थी जिसका नाम संयोगिता था संयोगिता का किरदार आपको मुंशी चिल्लर करते हुए नजर आएंगी

जयचंद्र की पुत्री सम्राट पृथ्वीराज को प्यार करती थी जोकि जयचंद को बिल्कुल भी पसंद नहीं था एक बार जयचंद अपनी पुत्री का स्वयंवर करवाने की घोषणा कर दी थी

और दूर देश के सभी राजाओं को स्वयंबर का न्योता भेजा गया पर पृथ्वी राज चौहान को न्योता नहीं भेजा गया और उनकी जगह एक प्रतिमा द्वार में रख दी गई

संयोगिता ने भी किसी राजा पसंद नहीं किया और वरमाला मूर्ति को पहनाने लगी इतने में वहां पर पृथ्वीराज वहां पहुंच जाते हैं संयोगिता वरमाला सम्राट पृथ्वीराज को ही पहना देती है

इससे जयचंद का भरी सभा मैं बहुत अपमान होता है इससे पहले जयचंद कुछ कर पाता सम्राट पृथ्वीराज संयोगिता को लेकर चले गए

इस बात से क्रोधित होकर जयचंद मोहम्मद गोरी हाथ मिला लेता है और द्वितीय युद्ध सम्राट पृथ्वीराज को हार का सामना करना पड़ता है यह है फिल्म प्यार युद्ध और स्वयंवर पर दिखाई गई है 3 जून 2022 शुक्रवार को यह फिल्म आपके नजदीकी सिनेमाघरों मैं देखने को मिल जाएगी।

Samrat prithviraj  Trailor 


 

प्रिय दर्शकों,


हमने यह रिव्यू "smarat Prithiviraj के आधारित ट्रेलर को ध्यान से देखने के बाद तैयार किया है। हमारे द्वारा बताई गई रिव्यू और वास्तविक कहानी में कुछ बदलाव संभव हैं।

Disclaimer:www.upcomingseries.in does not promote or support piracy of any kind. Piracy is a criminal offence under the Copyright Act of 1957. We further request you to refrain from participating in or encouraging piracy of any form 

Post a Comment

0 Comments